Atal Pension Yojana Online Apply | पीएम अटल पेंशन योजना आवेदन | APY Form | Atal Pension Yojana Chart

दोस्तो आज के लेख में वृद्धावस्था में आय से संबन्धित योजना के  बारे में व्याख्या से बतायेगें। अटल पेंशन योजना के अंतर्गत इस लाभार्थियो को 60 वर्ष की आयु होने के बाद 1 हजार से लेकर – 5 हजार रुपये तक की पेंशन के रुप में प्रतिमाह दी जायेगी।

Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY)

atal-pension-yojana-scheme
पीएम अटल पेंशन योजना

NSSO के द्वारा 2011-12 में किये गये सर्वे के अनुसार 47.29 करोड़ है। सरकार असंगठित क्षेत्र में श्रमिकों प्रोत्साहित करने के लिए 2010-11 में स्वावलंबन योजना की शुरुआत किया लेकिन उस योजना में पेंशन की कोई गारंटी न होने के कारण बंद कर दिया गया।

अटल पेंशन योजना
Atal Pension Yojana (APY)

असंगठित क्षेत्रों में काम कर रहे लोगों को बुढ़ापे में पेंशन की सुविधा मिल सकें इसके लिए केंद्र सरकार ने Atal Pension Yojana(APY)-अटल पेंशन योजना शुरू की है।

जैसा कि सरकारी संस्थाओं में काम करने वालों को सेवानिवृति ने बाद प्रति माह कुछ राशि पेंशन के तौर पर मिलती है, लेकिन असंगठित क्षेत्रों में काम करने वालों को ऐसी सुविधा नही मिल पाती।

इसलिए केंद्र सरकार ने मई 2015 में Atal Pension Yojana के नाम से एक ऐसी योजना चलाई है, जिसकी मदद से आप अपने बुढ़ापे को सुरक्षित बनाने के लिए अभी से निवेश कर सकते हैं और बुढ़ापे में पेंशन पा सकते हैं।

यदि आप भी Atal Pension Yojana(APY) Benefits का लाभ पाना चाहते हैं और इस योजना से जुड़ी पूरी जानकारी पाना चाहते हैं तो यह आर्टिकल पूरा पढ़ें, जिसमें हम आपको बताएंगे कि किस तरह से इस योजना का लाभ पा सकते हैं।

Indane Gas Booking Online

अटल पेंशन योजना क्या है?Atal Pension Yojana Details

अटल पेंशन योजना एक ऐसी योजना है जो असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगो जैसे ड्राइवर, नौकर, मजबूर, मिस्त्री आदि को 60 वर्ष के बाद एक निश्चित मात्रा में पेंशन देने का कार्य करती है।

योजना सुनिश्चित करती है कि बुढ़ापे में अपनी आर्थिक जरूरतों के लिए किसी और पर निर्भर न होना पड़े।

अटल पेंशन योजना पूर्व में चल रही स्वावलंबन योजना की जगह लाई गई है। स्वाबलंबन योजना भी इस योजना की तरह ही थी लेकिन फिर भी लोगो के द्वारा उसे कम स्वीकार्य किया गया था।

Atal Pension YojanaAPY Chart  

अटल पेंशन स्कीन से मुख्य बिन्दु

  • इस योजना का लाभ पाने के लिए योजना के साथ जुड़ना होगा और प्रति माह कुछ पैसे तब तक जमा करते रहना है जबकि की लाभार्थी की आयु 60 वर्ष न हो जाए।
  • 60 वर्ष के बाद लाभार्थी को 1000 रु से लेकर 5000 रु तक कि पेंशन प्रतिमाह मिल सकेगी। इस योजना की सबसे खास बात यह है कि लाभार्थी की यदि 60 वर्ष के पहले मृत्यु हो जाती है तो पेंशन की राशि पत्नी/पति को मिलने लगेगी।
  • यदि पत्नी चाहे तो बचे हुए वर्षों तक किश्त जमा कर सकती है और किश्त पूरी होने के बाद लाभ लेना शुरू कर सकती है या फिर लाभार्थी की मृत्यु के बाद ही वह लाभ लेना शुरू कर सकती है।
  • पति-पत्नी दोनों की मृत्यु होने के बाद पेंशन की राशि नॉमिनी को मिलने लगेगी।

अटल पेंशन योजना की उम्र सीमा.

अटल पेंशन योजना की सबसे खास बात यह है कि इसमें 18 वर्ष से लेकर 39 वर्ष तक के व्यक्ति शामिल हो सकते हैं। इस योजना में शामिल होने से लेकर 60 वर्ष की उम्र होने तक आपको हर माह किश्त जमा करनी होगी।

60 वर्ष बाद ही आपको यह पेंशन मिलना शुरू होगी। किश्त की राशि इस बात पर निर्भर करेगी कि आप 60 वर्ष के बाद इतनी पेंशन पाना चाहते हैं।

1000,2000,3000,4000 और 5000 रु. की अलग अलग पेंशन राशि मिलने का प्रावधान है। इस पेंशन योजना का लाभ पाने के लिए कम से कम 20 वर्ष तक निवेश करना ही होगा।

यदि कोई 18 वर्ष की उम्र में इस योजना से जुड़ता है और 5000 रु. की पेंशन चाहता है तो प्रतिमाह 210 रु किश्त जमा करनी पड़ेगी।

यदि 25 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो 376 रु. प्रतिमाह जमा करना होगा। वही यदि 30 वर्ष की उम्र में जुड़ते हैं तो 577 रु. प्रतिमाह जमा करना पड़ेगा।

अटल पेंशन योजना के लिये आवेदन कैसे करें?

  • इस योजना का लाभ पाने के लिए अपने बैंक में या पोस्ट ऑफिस में जाएं और अटल पेंशन योजना के लिये आवेदन करें।
  • यदि किसी भी बैंक में आपका सेविंग अकाउंट नही है तो सबसे पहले अकाउंट खुलवाएं फिर योजना के लिए आवेदन करें।
  • यदि आप इंटरनेट बैंकिंग उपयोग करते हैं तो अपने सेविंग अकॉउंट में ऑटो डेबिट की सुविधा चालू कर दें। इससे योजना की किश्त खुद ही जमा हो जाया करेगी और यह तब तक होती रहेगी जब तक आप 60 वर्ष के नही हो जाते।

अटल पेंशन योजना का लाभ पाने के लिए जरूरी योग्यता

  • भारत का नागरिक हो
  • आवेदक की उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच हो।
  • आवेदक का चालू Bank Account हो।

अटल पेंशन योजना के लाभ

  • किश्त मासिक, त्रैमासिक या अर्धवार्षिक जमा कर सकते हैं।
  • 1000 से 5000 तक की पेंशन लेने का विकल्प है।
  • 60 वर्ष के पहले या बाद में लाभार्थी की मृत्यु के बाद उसके पति या पत्नी को पेंशन मिलेगी।
  • Net Banking से भी किश्त जमा कर सकते हैं।

आवश्यक जानकरी

किश्त न जमा करने पर पेनाल्टी.

लाभार्थी जो पैसा जमा करेंगे उसी से प्रतिवर्ष कुछ पैसा मेंटेनेंस चार्ज के तौर पर काटा जाएगा। यदि आपके अकाउंट में किसी कारणवश पैसा नही है तो अकॉउंट तुरंत बंद हो जाएगा।

यदि ऐसी ही स्थिति लगातार 6 माह तक बनी रही तो आपके पेंशन की राशि रोक दी जाएगी। वही यदि स्थिति 12 माह तक यही स्थिति बनी रहती है तो अकॉउंट पूरी तरह से निष्क्रीय हो जाएगा जबकि 24 महिने के बाद इसे पूरी तरह से बंद कर दिया जायेगा।

किश्त देरी से जमा करने पर भी पेनाल्टी लगेगी। यदि आपकी किश्त 100 रु. प्रतिमाह है तो पेनाल्टी 1 रु. लगेगी। 101-500 रु. की किश्त पर 2 रु. 501-1000 रु. की किश्त पर 5 रु. और 1001 से ऊपर की किश्त पर 10 रु. पेनाल्टी लगेगी।

60 वर्ष के बाद किश्त कैसे ले?

 जब आपकी उम्र 60 वर्ष हो जाती है तभी से पेंशन मिलना शुरू हो जाती है। आपको बस एक बार उस बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाना होगा जहाँ आप इस योजना के लिए रजिस्टर्ड हैं।

वहाँ पेंशन पाने के लिए एक आवेदन करना होगा जिसके बाद पेंशन शुरू हो जाएगी। यदि अपने पति या पत्नी की मृत्यु हो गई है तो आपको उनकी पेंशन लेने का अधिकार है।

इस योजना से बाहर निकलने के लिए क्या करें?

एक बार अटल पेंशन योजना का हिस्सा बनने के बाद कुछ विशेष परिस्थितियों में ही बाहर निकला जा सकता है।

  • इस योजना से बाहर निकलने का वैसे तो कोई प्रावधान नही है, पर यदि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है, या किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है तो ही योजना से बाहर निकला जा सकता है।
  • यदि आप समय से पूर्व इस योजना से किसी कारणवश बाहर निकलते हैं तो आपको उतना पैसा वापस मिल जाएगा जो किश्त के तौर पर बैंक में जमा किये है।
  • लेकिन सरकार की तरफ से जो योगदान राशि आपको 60 वर्ष के बाद मिलती वह नही मिलेगी।

अटल पेंशन योजना बुढ़ापे में आर्थिक सुरक्षा देने वाली एक अच्छी योजना है, जिसका लाभ लेने में देरी न करें।

National Scholarship Portal 2.0 (NSP) 2021 Login & Registration 

महत्वपूर्ण लिंक

Atal Pension Yojana Details in Englishक्लिक करें