आत्मनिर्भर भारत अभियान या Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan Yojana का लक्ष्य भारत को आत्मनिर्भर बनाना है। दोस्तों जैसा कि आप जानते है कि कोरोना एक वैश्विक महामारी है जिसके कारण छोटे उद्योगों, मजदुर, किसानो, श्रमिक को बहुत नुकसान झेलना पड़ा।

aatm-nirbhar-bharat-yojana

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan (आत्मनिर्भर भारत)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 मई को सुबह 8 बजे राष्ट्र को संबोधित किया। देश को संबोधित करते हुए, पीएम मोदी ने “आत्म निर्भर भारत” एक आत्म निर्भर राष्ट्र पर ध्यान केंद्रित किया। इसी को ध्यान में रखते हुए माननीय प्रधानमंत्री जी ने 20 लाख करोड़ का विषेश आर्थिक पैकेज का ऐलान किया जो भारत की कुल जीडीपी का 10 प्रतिशत माना जाता है। Aatm Nirbhar Bharat Yojana का मुख्य उद्देश्य कोविड के कारण प्रभावित हुये गरीबो एवं मजदूरों,प्रवासियो को सशक्त बनाना है

आत्मनिर्भर भारत अभियान  के तहत होने वाले सुधार भारत में बुनियादी ढांचे, अर्थव्यवस्था और व्यापार को मजबूत करने पर केंद्रित होंगे। आस्था निर्भारता वैश्विक आपूर्ति परिवर्तन की दौड़ में भारत को आगे बढ़ाने में मदद करेगी और नए आर्थिक पैकेज को दक्षता बढ़ाने और सभी क्षेत्रों की गुणवत्ता में सुधार को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है।

प्रधानमत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा “कोविद -19 महामारी ने हमें सप्लाई चेन के महत्व को बहुत अच्छे से सिखाया है। कोई भी विश्व स्तर के ब्रांड कभी लोकल ब्रांड रहा होगा लेकिन उनके देशवासियो के अथक प्रयास से वैश्विक बना दिया। आज से, सभी भारतीयों को हमारे स्थानीय उत्पादों के लिए मुखर होना चाहिए, ”

हमारे देश कि वित्त मंत्री सुश्री निर्मला सीतारमण ने इस राहत पैकेज को पांच अलग अलग भागों में देश के सामने प्रस्तुत किया

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyanआत्मनिर्भर भारत अभियान के पांच प्रमुख स्तम्भ

  • इकोनोमी –
  • इन्फ्रास्ट्रक्चर –  किसी भी देश के लिए उसका इन्फ्रास्ट्रक्चर अच्छा होना चाहिये जिसके कारण वह तेज गति से विकासकी ओर बढ़ेगा।
  • हमारा सिस्टम – देश में एक ऐसा सिस्टम होना चाहिये जो हमेशा नयी नयी तकनीकि का विकास करे और उनका उपयोग करें
  • डेमोग्राफी – भारत दुनिया की सबसे बड़ी डेमोक्रेटिक देश है जो कि हमारी ताकत है और हमारे आत्मनिर्भर भारत अभियान की दिशा में काफी सहायक होगी।
  • डिमांड- किसी भी अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए उसके डिमांड एवं सप्लाई चेन पर काफी निर्भर करता है हमे अपने देश की इसी ताकत का उपयोग करना है

आत्मनिर्भर भारत अभियान की कुछ प्रमुख बाते

  1. यदि आप कोई छोटा उद्दयोग की शुरुआत करना चाहते है जो कि MSME के अन्तर्गत आते है तो आपको बिना गारंटी के लोन दिये जायेगा।यह लोन 4 साल तक बिल्कुल ही गारटी फ्री का होगा और 10 महीने तक लोन चुकाने की छूट भी मिलेगी।
  2. जो भी कोरोना काल में परेशान है और एमएसएमई में सक्षम है उनके विस्तार के लिए सरकार मदद करेगी जिसके लिए 10000 करोड़ के फंड की व्यवस्था करेगी।
  3. जिनका मासिक वेतनमान 15000 हजार रुपये से कम है और यदि ईपीएफ देय है तो अगस्त माह तक का इपीएफ केन्द्र सरकार के द्वारा दिये जायेगे। इस कार्य हेतु सरकार करीब 25000 करोड़ रुपये खर्च करेगी. 
  4. माइक्रो फाइनेंस कंपनियों (NBFC) के लिए 30,000 करोड़ का एक स्पेसल लिक्विडिटी फंड की व्यवस्था कि गई है।
  5. जिनके भी रिफंड लंबित हैं, उन्हें जल्द से जल्द भुगतान किया जाएगा. छोटे उद्योग हों, पार्टनरशिप वाले उद्योग हों, एलएलपी हों, या कोई अन्य उद्योग, सभी को जल्द से जल्द भुगतान होगा.

आत्मनिर्भर भारत अभियान का लाभ किनको मिलेगा

  • श्रमिक / दिहाड़ी मजदूर
  • किसान
  • वे लोग जो छोटी-छोटी दुकान लगाते हैं इसमें रेहड़ी, रिक्शा वाले भी शामिल हैं।
  • कुटीर उद्योग
  • गृह उद्योग
  • हमारे लघु-मंझोले उद्योग
  • सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम (MSMEs)
  • मध्यम वर्ग के लोग
  • उच्च वर्ग के लोग जो देश की अर्थव्यवस्था में अपना योगदान देते हैं

महत्वपूर्ण जानकारी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेजAatm Nirbhar Bharat Abhiyan Important Point

योजना का नामआत्मनिर्भर भारत अभियान
किसके द्वारा आरंभ की गईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार
लाभार्थीदेश का प्रत्येक नागरिक
उद्देश्यसमृद्ध और संपन्न भारत निर्माण
आरंभ की तिथि12 मई 2020
पैकेज की धनराशि20 लाख करोड़ रुपए
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://www.pmindia.gov.in/en/

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan Toll Free Number

अगर आपको आपके बच्चे के लिए पढाई में कोई परेशानी हो रही है तो केन्द्र सरकार ने एक टोल फ्री नंबर 8448440632 जारी किया है जिस पर आप 24×7 कभी भी संपर्क कर सकते है जो कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत किया गया है।

आत्मनिर्भर भारत अभियान नई अपडेट

हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए US-इंडिया बिजनेस काउंसिल (USIBC) द्वारा आयोजित इंडिया आइडियाज शिखर सम्मेलन में भाषण दिया। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में मोदी जी ने कहा है कि पिछले छह वर्षों के दौरान हमने अपनी अर्थव्यवस्था को अधिक सुधार योग्य बनाने के लिए कई प्रयास किए हैं। इन सुधारों की वजह से प्रतिस्पर्धात्मकता, पारदर्शिता, डिजिटाइजेशन, इनोवेशनऔर पॉलिसी स्थिरता बढ़ी है। और उन्होंने कहा है कि भारत आपको स्वास्थ्य सेवा में निवेश करने के लिए आमंत्रित करता है।

भारत में हेल्थकेयर सेक्टर हर साल 22.प्रतिशत से भी अधिक तेजी से बढ़ रहा है। इस अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय के विशेषज्ञों ने छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के तनाव को दूर करने के लिए पहली मनोवैज्ञानिक मनोदर्पण गाइडलाइन बनायी है।

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत कुछ महत्वपूर्ण घोषणाए

आप सभी लोग जानते है कि कोरोना वायरस के कारण पूरे देश के लॉक डाउन की स्थिति चल रही है जिसका सबसे ज्यादा बुरा असर देश के सुक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्योगों , श्रमिकों ,मजदूरों और किसानो पर पड़ रहा है इन सभी नागरिको को लाभ पहुंचाने के लिए हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने देश के सुक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्योगों , श्रमिकों ,मजदूरों और किसानो को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान कर दिया | इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चुने गए इन सभी लाभार्थियों को सबसे बड़ी सहायता राशी आर्थिक पैकेज के रूप प्रदान की जाएगी |केंद्र सरकार की इस मदद से भारत देश एक नई ऊचाई की तरफ जायेगा |

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan Yojana Latest Update

श्रमिकों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में संसद में पारित हुई 3 श्रम संहिताएं

जैसा कि मोदी सरकार नें वादा किया था कि श्रमिको को ज्यादासे ज्यादा सुविधाओ दिये जायेगे श्रमिको को आत्मनिर्भर बनाने एवं रोजगार बढ़ाने कि दिशा में आजादी के 73 वर्षों में पहली बार संसद में पारित हुई तीन श्रम संहिताएं आईये जानते है इनकी कुछ खास महत्वपूर्ण बातें-

सामाजिक सुरक्षा संहिता ,2020

  • कर्मचारी भविष्य निधि और राज्य कर्मचारी बीमा निगम का सोशल सिक्योरिटी नेट सभी वर्कर के लिए खुल गया
  • 40 करोड़ असंगठित श्रमिको केलिए सामाजिक सुरक्षा कोष का गठन
  • अंसगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए राष्ट्रीय डाटा बेस

व्यवसायिक सुरक्षा , स्वास्थ्य एवं कार्यदशा संहिता 2020

  • सभी श्रमिको आब मिलेगे नियुक्ति पत्र
  • नि:शुल्क वार्षिक स्वास्थ्य जांच
  • सिनेमा कर्मचारियो का आडियो विजुआल वर्कर का दर्जा मिलेगा।
  • महिला कर्मियो को अब शाम 7 बजे से सुबह 6 बजे तक काम करने का अधिकार

☑ औद्योगिक संबन्ध संहिता 2020

  • पहली बार श्रम कानूनों में ट्रेड यूनियनों को मान्यता
  • समझौतो के लिए श्रमिको के संघ और परिषदों को मान्यता
  • श्रमिको को कांट्रैक्ट लेबर के बजाय Fixed Term Employment का विकल्प मिलेगा।